indianRailwayLoco Pilot

Loco Pilot Kaise Bane,लोको पायलट बनने की पात्रता, सिलेबस और परीक्षा की पूरी जानकारी!

Loco Pilot Kaise Bane In Hindi,Education Qualification,Syllabus और exam pattern,Loco Pilot Salary,मेडिकल जांच

भारतीय रेलवे भर्ती बोर्ड के अनुसार Assistant Loco Pilot Recruitment 2019 के विभिन्न पदों को भरने के लिए रिक्तियों के बारे में एक अधिसूचना जारी किया गया था है। उनके अनुसार दिए गए आवेदन के प्रारूप का उपयोग आवेदन करने के रूप में किया जा सकता है। दिये गए आवेदन के प्रारूप के अनुसार पर आवेदक को सभी जरूरी दस्तावेज़ उस application फॉर्म में संलग्न करने होंगे।

Loco Pilot Kaise Bane In Hindi,Education Qualification,Syllabus और exam pattern,Loco Pilot Salary,मेडिकल जांच
Loco Pilot Kaise Bane In Hindi,Education Qualification,Syllabus और exam pattern,Loco Pilot Salary,मेडिकल जांच

आरआरबी एएलपी (RRB ALP) के एप्लीकेशन फॉर्म रेलवे की ऑफिसियल वेबसाइट पर उपलब्ध होंगे। वो सभी उम्मीदवार जो apply करना चाहते है वो केवल online mode के माध्यम से ही अपने आवेदन पत्र को भर सकते है फिर एग्जाम के लिए डेट आएगी तो उसे नोटिफिकेशन मिलेगा apply के लिए आपको एक valid ईमेल आईडी और मोबाइल नंबर चाहिए जिसपे आपको नोटिफिकेशन मिलेगा

आरआरबी एएलपी (RRB ALP)Loco Pilot के लिये Education Qualification)

Loco pilot पद के लिए 10वीं या 12वीं पास होना चाहिए।और इसके साथ-साथ ही ITI का एक या दो साल का ट्रेड कोर्स भी होना चाहिए। जिनमें मैकेनिक(डीजल, ऑटोमोबाइल), इलेक्ट्रिकल(वायरमैन, इलेक्ट्रिशियन), ऑटोमोबाइल इनमें से कोई भी एक ट्रेड में पास होना जरूरी होता है।

इसके अलावा अगर आपके पास मैकेनिकल,इलेक्ट्रिकल ब्रांच की बैचलर इंजीनियरिंग की डिग्री हो तो भी आप लोको पायलट के लिए एलिजिबल(अप्लाई) कर सकते है। ये सभी सारे सर्टिफ़िकेट मान्यता प्राप्त इंस्टीट्यूट या यूनिवर्सिटी से होना जरूरी होता है।

मेडिकल योग्यता (Medical के लिये Qualification)

लोको पायलट के लिए मेडिकल परीक्षण बहुत अच्छा होने चाहिए ALP बनने के लिए आँखों का सबसे महत्वपूर्ण भूमिका होती है। आपकी आँखें बिल्कुल ही स्वस्थ (6/6) होना चाहिए अगर आपकी आँख में कोई problem है या आपकी आँखें 6/6 से कमजोर हो तो आप लोको पायलट के लिए अप्लाई नहीं करना चाहिए क्योंकि यह एक पूर्ण रूप से जिम्मेदारी वाले व्यक्ति हैं।

आयु सीमा (Loco Pilot Age)

लोको पायलट की भर्ती के लिए उम्र 18 से 30 तक होनी चाहिए जब आप किसी पोस्ट के लिए तैयार है तो उस समय आपको मिनिमम 18 के होने चाहिए ALP के फॉर्म 2018 आवेदन करने के लिए आवेदक की उम्र 18 से 28 वर्ष के बीच रखी गई थी। जबकि SC/ST वर्ग के लिए 5 वर्ष और ओबीसी आरक्षण के लिए 3 वर्ष आयु सीमा में छूट भी दिया जाता है

आरआरबी एएलपी (RRB ALP) Written Exam
लोको पायलट की भर्ती के लिए लिखित परीक्षा देना होता है जिसमें मुख्यतः दो चरणों में में पेपर होता चरणों में में पेपर होता है पहले चरण और दूसरा चरण पहले चरण में 100 नंबर के क्वेश्चन में आपको क्वालीफाई करना होगा

CBT1

अगर जो पहले चरण में क्वालीफाई पहले चरण में क्वालीफाई करते हैं तो आपको दूसरे चरण के लिए eligiable माना जाएगा और आपको दूसरे चरण के एग्जाम में बैठने का मौका मिलेगा दूसरे चरण में जो एग्जाम होगा उसमें आपको पास होने के साथ-साथ मेरिट में आने के लिए अच्छे नंबर लाने होंगे

आंखों की जांच में और आंखों से रिलेटेड क्या-क्या होता है 

आंखों की जांच में 6/6, colour blindness, दृष्टि दोष। इसके साथ साथ साथ बीपी की जांच, यूरिन की जांच, चेस्ट की जांच, पूरी बॉडी का स्कैनर से जांच की जाती है और मेडिकल में सब कुछ सही होने पर आपको के एल पी के रूप में में में पी के रूप में में के रूप में में रेलवे बोर्ड द्वारा मैनुअली रूप से सेलेक्ट कर लिया जाता है और ट्रेनिंग के लिए ट्रेनिंग सेंटर भेजा जाता है है जहां पर कम से कम 3 महीने या 7 महीने की ट्रेनिंग के बाद आप गाड़ी पर वर्किंग के लिए पूर्ण रूप से तैयार हो जाते हैं       

      ये भी पढ़े —    रेलवे स्टेशन मास्टर के कार्य और वेतन ,जॉब प्रोफ़ाइल, कैरियर 2020

आरआरबी एएलपी (RRB ALP) 2020 योग्यता-

यही से आपका Loco pilot बनने का सपना दूसरे चरण के एग्जाम से ही तय होगा। प्रत्येक चरण में आपसे 100 अंकों के सवालों को बहुविकल्पीय प्रश्न के माध्यम से पूछे जाएंगे, जिन्हें 1 घंटे 30 मिनट में हल करने की आवश्यकता होंगी। इसके साथ-साथ हर गलत जवाब के लिए 1/3 की negative मार्किंग भी की जाएगी।

  1. कंप्यूटर आधारित टेस्ट (फर्स्ट स्टेज)
  2. कंप्यूटर आधारित टेस्ट (सेकेंड स्टेज)

अगर आप दूसरी परीक्षा को पास कर लेते हैं और साइको टेस्ट में भी पास हो जाते हैं तो आपकी एक फाइनल मेरिट बनती है और उस फाइनल मेरिट में आपका नाम आता है तो आप लोको पायलट की मेडिकल टेस्ट के लिए क्वालीफाई होते हैं और मेडिकल टेस्ट के लिए बुलाए जाते हैं जिसमें आंखों की जांच, पूरे शरीर की जांच और कुछ नॉर्मल जांच होते हैं

Loco pilot मनोवैज्ञानिक परीक्षा

दोनों लिखित परीक्षा हो जाने के बाद अगर आप दूसरे चरण की परीक्षा में पास होते हैं तो आपको लोको पायलट की अगली परीक्षा जिससे मनोवैज्ञानिक परीक्षा या साइको टेस्ट के नाम से भी जाना जाता है को देना होगा जिसमें आपको दिमागी रूप से सवाल को हल करना होगा इस परीक्षा में अभ्यर्थियों से उसकी किसी प्रश्न का उत्तर वह कितनी जल्दी और कितना सटीकता के साथ दे सकता है इसका परीक्षण किया जाता है, मतलब आपसे उसी प्रकार के सवाल पूछे जाते है जो सिर्फ आप अपने दिमाग से तुरंत हल कर सकते है।

क्योंकि इसमें जल्दी और सटीकता के साथ तुरंत निर्णय लेना होता है कि क्या करना है और क्या नहीं करना है अगर आप यह जल्दी-जल्दी कर लेते हैं और बोर्ड द्वारा दिए गए मानक के अनुसार क्वेश्चन तक पहुंचते हैं तो आपको साइको टेस्ट में पास कर दिया जाएगा और सेकंड दूसरे चरण के एग्जाम और साइको टेस्ट को लेकर 70 और 30 के रेशियो में दोनों एग्जाम ओं को मिलाकर एक मेरिट बनेगी जिसमें total post के अनुसार 10 गुना ज्यादा तक आवेदकों को पास कर दिया जाएगा

लोको पायलट की Medical Test

मेडिकल टेस्ट में मुख्य रूप से आंखों की जांच ज्यादा इंपॉर्टेंट होती है आपकी आँखों की रोशनी बहुत ही अच्छी होना चाहिए। आपकी आँखों से दूर तक देखने की भी क्षमता अच्छी होनी चाहिए। क्योंकि एक लोको पायलट ही ऐसा पोस्ट ऐसा पोस्ट पोस्ट है जो लाखों की जिंदगी ले भी सकता है और बचा भी सकता है इसीलिए अगर आंखों में कोई प्रॉब्लम हो तो लोको पायलट का फार्म अप्लाई न करें

परीक्षा

सब्जेक्ट

सीबीटी स्टेज 1

सामान्य विज्ञान

 

तर्क

 

गणित

 

सामान्य ज्ञान

सीबीटी स्टेज 2- पार्ट ए

सामान्य विज्ञान

 

तर्क

 

गणित

 

करंट अफेयर

सीबीटी स्टेज 2- पार्ट बी

ट्रेड सिलेबस

परीक्षा पैटर्न-

पोस्ट

परीक्षा

समय

प्रश्नों की संख्या

एएलपी (Assistant Loco Pilot)

फर्स्ट स्टेज सीबीटी

1 घंटा

75

 

सेकेंड स्टेज सीबीटी- पार्ट ए

1 घंटा 30 मिनट

100

 

सेकेंड स्टेज सीबीटी- पार्ट बी

1 घंटा

75

 

कंप्यूटर बेस्ड एप्टीट्यूड टेस्ट

Scroll left or right to view full table

Railway (RRB) ALP लोको पायलट की तैयारी

अगर आप लोको पायलट की तैयारी कर रहे हैं या फिर करने की सोच या क्या करना चाहते हैं तो हम आपको कुछ अपने तरीके से अपनाए हुए टिप्स बताते हैं जिनको फॉलो करके आप भी लोको पायलट की job को पा सकते हो इसके लिए आपको सामान्य अध्ययन में विज्ञान विषय पर ज्यादा ध्यान देने की जरूरत होगी

इसके साथ साथ साथ सामान्य ज्ञान, रिजनिंग, मैथ के साथ रोजाना के अखबार पेपर से करंट की कुछ महत्वपूर्ण जानकारी को रोज-रोज इकट्ठा करनी होगी जिससे आपकी करंट की जानकारी अच्छी हो जाएगी इसके साथ साथ साथ अगर प्रीवियस ईयर में लोको पायलट के एग्जाम हुए हो तो उसके पेपर को इकट्ठा करके उसका मॉडल रूप को देखना होगा और उसी के अनुसार प्रत्येक week में दो एक्सरसाइज प्रैक्टिस के रूप में करनी होगी

आरआरबी एएलपी (RRB ALP) 2020 Salary In India


इंडियन रेलवे में एक लोको पायलट पहले सहायक लोको पायलट के पद पर नियुक्त होता है जिसकी सैलरी ग्रेड पर 1900 और पे स्केल 5200 से 20000 के रूप में होती है और यही आगे चलकर सहायक लोको पायलट से लोको पायलट के पद पर प्रमोट होता है और उसकी सैलरी भी बढ़ती जाती है विस्तार से पढ़ें…..

Conclusion:
भारतीय रेलवे में लोको पायलट पद पर एक कैरियर बनाना सभी तरीकों से सुरक्षित भविष्य है लोको पायलट बनने के लिए उन सभी लोगों के लिए रेलवे बोर्ड एक सुनहरा अवसर प्रदान करता है जिन्होंने भारतीय रेलवे में नौकरी करने के उद्देश्य से आईटीआई या डिप्लोमा किए हैं

जिसमें सुनहरे भविष्य के साथ साथ बहुत सारी सुविधाएं और अपने परिवार का अच्छे से पालन पोषण कर सकते हैं और इससे आपको ना केवल संतुष्टि मिलेगी बल्कि इस पर पर आप गर्व महसूस करेंगे क्योंकि रेलवे एक बहुत बड़ा नियोक्ता है जिसमें लाखों लोग अपनी सेवाएं दे रहे हैं और सुरक्षित और सुचारू रूप से एक स्थान से दूसरे स्थान तक लोगों को पहुंचाने का काम कर रहे है

यदि आपको यह जानकारी अच्छी लगी हो तो इसकोदूसरों को और अपने दोस्तों के साथ जरूर जरूर शेयर करें । धन्यवाद!

Comment here

error: Content is protected !!